Breast Cancer Awareness in Hindi: कब किसे कौन सा रोग हो जाए यह कहा नहीं जा सकता। इन दिनों तो वैसे भी इतनी सारी समस्याएं आ रही हैं कि पता ही नहीं चलता कब कोई अच्छा भला और स्वस्थ दिखने वाला व्यक्ति बीमार हो जाता है। ऐसी ही गंभीर बीमारी में से एक है कैंसर, जो कि बहुत ही ज्यादा खतरनाक और जानलेवा बीमारी है। वैसे तो कैंसर के बहुत सारे प्रकार हैं लेकिन आज हम जिसकी बात करने जा रहे हैं वह है ब्रैस्ट कैंसर, जिसे लेकर तकरीबन हर महिला के मन में यह डर रहता है कि कहीं वह इसकी चपेट में न आ जाएं।

हालांकि, आपको यह भी पता होना चाहिए कि आज की तारीख में कैंसर लाइलाज बीमारी नहीं है, मगर इसका इलाज समय रहते हो जाना चाहिए तभी कुछ किया जा सकता है। मगर किसी भी व्यक्ति को जब पता चलता है कि उसे कैंसर जैसी गंभीर बीमारी है तो वह अंदर से काफी ज्यादा सहम जाता है। उसे ऐसा महसूस होने लगता है कि अब उसका जीवन समाप्त होने वाला है और अब उसके पास कुछ भी नहीं है। मगर आपको शायद इस बात की जानकारी नहीं होगी कि ब्रेस्ट कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से भी आसानी से बचा जा सकता है और वह भी बस थोड़ी सी सावधानी बरतकर और अपनी डाइट पर कुछ खास ध्यान देकर। जी हां, यदि आप अपनी डाइट में कुछ खास चीजों को शामिल कर लेती हैं तो निश्चित रूप से ब्रेस्ट कैंसर के खतरे को संभवतः काफी हद तक कम किया जा सकता है।

होलग्रेन फूड

whole-grain-food
bcbsnc

चूंकि यह एक बेहद ही गंभीर बीमारी है और इससे पहले कि आप इसकी चपेट में आयें, इससे बचने के लिए आपको ज्यादा कुछ नहीं बस अपने आहार में अनप्रोसेस्ड व्हीट, ओट्स, कार्न, चावल व बार्ले जैसी खाद्य पदार्थों को शामिल कर लेना है। इससे आपको स्तन कैंसर होने की संभावना काफी हद तक कम हो जाती है। असल में आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इन सभी खाद्य पदार्थों में फाइटो-केमिकल्स पाए जाते हैं, जो ना सिर्फ ब्रेस्ट कैंसर के होने की संभावना कम करते हैं बल्कि अगर पहले कभी आप इस बीमारी से जूझ चुकीं है तो उसे दोबारा लौटने से भी रोकते हैं।

अल्कोहल और धूम्रपान से दूरी

Alcohol-And-Tobacco
alcorehab

शराब का सेवन तो वैसे हर हाल में ही हानिकारक होता है। खासकर महिलाओं को शराब से जहां तक हो सके दूर रहना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि कई ऐसे केसेज अब तक सामने आ चुके हैं जिनमें ब्रेस्ट कैंसर की वजह अधिक शराब का सेवन और धूम्रपान है। बॉलीवुड की कई अभिनेत्रियां इस बात का उदाहरण हैं कि शराब और धूम्रपान से कैंसर होता है।

फैट फैक्ट

ऐसा माना जाता है कि यदि आप ज्यादा फैट का सेवन करती हैं तो इससे ब्रेस्ट कैंसर बढ़ने की संभावना भी बढ़ जाती है। हालांकि, यह कथन किस हद तक सही है इसका कोई प्रमाण नही मिलता। लेकिन आपको इस बात का ध्यान अवश्य रखना चाहिए कि ब्रेस्ट कैंसर के रिस्क को कम करने के लिए आपको सैचुरेटिड फैट व ट्रांस फैट युक्त आहार जैसे बीफ़, मक्खन, पनीर, आइसक्रीम व तला हुआ भोजन जितना संभव हो सके कम सेवन करना चाहिए।

प्लांट बेस्ड फूड

Plant-Based-food
parade

गाजर, कद्दू, पपीता, संतरा आदि जैसे फल और सब्जियां हमेशा से ही हमारे आहार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा रहे हैं। इनके सेवन से ना सिर्फ हम स्वस्थ रहते हैं बल्कि ये हमारा वजन भी बरकरार रखने में काफी ज्यादा मददगार होते हैं। सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण बात तो यह है कि यदि आप इन्हें अपने रोजाना के आहार में नियम से शामिल कर लेते हैं तो इससे आपको स्तन कैंसर होने की संभावना काफी हद तक कम हो जाती है। यानी कि इस समस्या से बचने के लिए प्लांट बेस्ड फूड को अपनी डाइट का हिस्सा अवश्य बनाएं।

विटामिन-डी

vitamin-D
lifealth

जैसा कि हम सभी जानते हैं विटामिन-डी और ब्रेस्ट कैंसर का काफी गहरा रिश्ता रहा है। माना जाता है कि यदि हमारे शरीर में विटामिन-डी की कमी हो जाए तो इसकी वजह से ब्रेस्ट कैंसर होने की संभावना काफी हद तक बढ़ जाती है। ऐसे में यह बेहतर होगा कि आप अपने रोजाना के आहार में ऐसी चीजों को भी शामिल करें जिससे आपकी विटामिन-डी की पूर्ति हो जाया करे। सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण यह है कि आप दिन भर में किसी भी तरह से सनबाथ अवश्य लें यानि कि सूरज की रोशनी में अवश्य आयें क्योंकि इसमें विटामिन-डी प्रचुर मात्रा में पाई जाती है। बताते चलें कि अगर आप शाकाहारी हैं तो आपके लिए दूध, दही और संतरे के रस का सेवन करना अच्छा रहेगा।

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा। पसंद आने पर लाइक और शेयर करना न भूलें।   

Facebook Comments