Varshita Thatavarthi: फैशन की दुनिया के अपने ही पैमाने होते हैं। फैशन की दुनिया में जब भी फैशनिस्टा की बातें होती हैं, तो ऐसी ही लड़कियों का ख्याल दिल में आता है, जो दिखने में पतली हों, जिनका रंग गोरा हो जो तीखे नैन-नक्श वाली हों। फैशन इंडस्ट्री में यदि कोई लड़की जिसका फिगर पूरी तरह से परफेक्ट है। साथ में वह कम उम्र की भी है, लेकिन उसका रंग यदि पक्का रह गया है तो खूबसूरती के तराजू पर उसे तौलने से लोग कतराने लगते हैं। इसे वास्तव में विडंबना ही कहा जा सकता है कि समाज की ओर से खूबसूरती के कई पैमाने तय कर दिए गए हैं, जिनसे बाहर समाज देखना ही नहीं चाहता है। उदाहरण के लिए सांवली रंग की जो लड़कियां होती हैं, उन्हें अक्सर शादी-ब्याह के दौरान परेशानियों का सामना करना पड़ता है, भले ही वे कितनी भी योग्य क्यों न हों।

उसी तरीके से किसी लड़की का साइज यदि बल्की हो तो वैसे में उसके माता-पिता उसकी मॉडल बनने की इच्छा को उसे हतोत्साहित करके मार देने का काम करते हैं। उन्हें इस बात का एहसास कराने की कोशिश की जाती है कि फैशन की दुनिया तो उनके लिए बनी ही नहीं है। ऐसे में यहां हम आपको फैशन इंडस्ट्री में अपनी छाप छोड़ देने वाली सब्यसाची मुखर्जी के एक मॉडल के बारे में बता रहे हैं, जिन्होंने फैशन इंडस्ट्री में खूबसूरती के मायने ही बदल कर रख दिए हैं।

कौन हैं वर्शिता थटवर्ती?

navbharattimes

हर कोई यह जानता है कि जो लड़कियां साइज में बल्की होती हैं, उन्हें समाज में कितने तरह की उलाहना सुननी पड़ती है और कितनी बार उन्हें शर्मिंदगी भी महसूस करनी पड़ती है। कुछ इसी तरह की चीजें विशाखापत्तनम में जन्म लेने वाली और दिल्ली में पली-बढ़ीं वर्शिता थटवर्ती (Varshita Thatavarthi) के साथ भी हुई। फैशन और मॉडलिंग के क्षेत्र में करियर बनाने की उनकी चाहत थी। ऐसे में एक शहर से दूसरे शहर में जाती रहती थीं। फिर भी डस्की कलर होने की वजह से उन्हें हर जगह रिजेक्ट किया जा रहा था। करीब पांच वर्षों तक उनका संघर्ष इसी तरीके से चलता रहा, क्योंकि दिखने में वे सांवली थीं और उनकी साइज भी बल्की थी। ऐसे में कोई भी मॉडलिंग एजेंसी उन्हें रिप्रेजेंट करने का मौका अपनी ओर से नहीं दे रही थी। फिर भी उन्होंने ठान लिया था कि वह हार नहीं मानेंगे। अपने सपनों को पूरा करने के लिए उन्होंने मेहनत करना जारी रखा।

फिर मिला ये ब्रेक (Varshita Thatavarthi Sabyasachi Plus Size Model Latest Muse)

वर्ष 2017 के दिसंबर से वर्शिता थटवर्ती ने फिल्मों में काम करने की कोशिश करनी शुरू कर दी थी। हालांकि, उन्हें यह नहीं पता था कि नया साल उनके लिए कुछ खास लेकर आने वाला है। जनवरी, 2018 में सब्यसाची ज्वेलरी एग्जीबिशन के बारे में उन्हें पता चला। सब्यसाची मुखर्जी की ओर से उसी दौरान अपनी ज्वेलरी को शोकेस करने का काम शुरू किया गया था। वर्शिता उनसे मिलने के लिए पहुंच गईं। वहां वे उनसे मिलीं। उनके साथ उन्होंने एक सेल्फी ली। एक जोड़ी ईयररिंग्स खरीदी और वहां से लौट आईं। उस वक्त तक उन्हें यह नहीं मालूम था कि इस मुलाकात के बाद उनकी जिंदगी में सब कुछ बदल जाने वाला है।

टीम ने किया संपर्क

वर्षिता के मुताबिक इसके करीब दो महीने के बाद सब्यसाची मुखर्जी की टीम की ओर से उनसे संपर्क किया गया। उनसे यह पूछा गया कि क्या वे कोलकाता में ट्रायल शूट में काम करने की इच्छुक हैं? इस पर वर्शिता के मुताबिक उन्होंने तुरंत हां में जवाब दे दिया। डिजाइनर सब्यसाची मुखर्जी के ट्रायल सूट में प्लस साइज की मॉडल के रूप में जिस तरीके से वर्शिता ने काम किया, उसकी वजह से हर कोई उनसे प्रभावित हो गया। उसके बाद से चाहे विंटरफॉल हो या फिर ब्राइडल कलेक्शन या फिर चारबाग, सब्यसाची मुखर्जी के सभी ट्रायल शूट का वर्शिता एक अहम हिस्सा रही हैं। वर्शिता आज इस तरह से एक मिसाल बन गई हैं।

Facebook Comments