Google Chrome Update 2020: गूगल क्रोम का इस्तेमाल आज भारत सहित दुनिया के लगभग हर देश के लोग करते हैं। इंटरनेट का इस्तेमाल करने के लिए गूगल क्रोम का प्रयोग एक सर्च इंजन के रूप में किया जाता है। जहां पहले लोग याहू(yahoo) को एक सर्च इंजन के रूप में इस्तेमाल करते थे, वहीं अब गूगल क्रोम का इस्तेमाल लोग धड़ल्ले से करने लगे हैं। लेकिन अगर आप अभी भी गूगल क्रोम का इस्तेमाल कर रहे हैं तो, आपको सतर्क होने की जरुरत है। ऐसा क्यों है, ये जानने के लिए आपको इस आर्टिकल को पूरा पढ़ना पड़ेगा। आइये जानते हैं गूगल क्रोम का इस्तेमाल करने वाले सभी लोगों को क्यों है सतर्क होने की आवश्यकता।

गूगल क्रोम क्या है और ये कैसे काम करता है ?

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, गूगल क्रोम मुख्य रूप से एक ब्राउज़र सर्च इंजन है, इसकी मदद से आप इंटरनेट पर किसी भी चीज को सर्च कर सकते हैं और उसके बारे में जानकारी एकत्रित कर सकते हैं। गूगल द्वारा बनाए गए इस सर्च इंजन का प्रयोग काफी आसान है, यूज़र फ्रेंडली होने की वजह से ज्यादातर लोग आज इसी का इस्तेमाल करते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, गूगल क्रोम को बनाने वाला और कोई नहीं बल्कि भारतीय मूल के गूगल के सीईओ सूंदर पिचाई हैं। गूगल क्रोम को मुख्य रूप से गूगल का सर्च इंजन ब्राउज़र भी कहा जाता है। पहले इसका एक और ब्राउज़र मोज़िल्ला फायरफॉक्स का इस्तेमाल भी लोग करते थे, लेकिन बाद में उसमें दिक्कतें आने लगी इसलिए लोगों ने उसे ब्राउज़र के रूप में इस्तेमाल करना बंद कर दिया। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यदि आप आज भी गूगल क्रोम का इस्तेमाल कर रहे हैं तो आपको सतर्क होने की आवश्यकता है।

गूगल क्रोम का उपयोग करने वालों को क्यों सतर्क होना चाहिए (Google Chrome Update 2020)

आपको भी इस बारे में सोच कर हैरानी हो रही होगी की आखिर गूगल क्रोम का इस्तेमाल करने वालों को सतर्क होने की क्या जरुरत है। एक सूत्र से मिली जानकारी के अनुसार विंडोज और मैक में काम करने वाले लोग यदि गूगल क्रोम का पुराना वर्जन ही इस्तेमाल कर रहे हैं तो उनकी डिवाइस और डेटा को उससे खतरा हो सकता है। बताया जा रहा है कि, पुराना वर्जन इस्तेमाल करने वालों को तत्काल रूप से इसे इस्तेमाल करना बंद कर देना चाहिए। पुराने वर्जन में काम करने वाले लोगों के डिवाइस और विभिन्न डेटा हैक भी किए जा सकते हैं। जी हाँ, अगर आप भी अभी तक गूगल क्रोम के पुराने वर्जन में ही काम कर रहे हैं तो आपको सतर्क हो जाना चाहिए।

इससे बचने के लिए क्या करें

किसी ने बिल्कुल सच कहा है कि, अगर कोई समस्या आती है तो उसका समाधान भी जरूर होता है। तो दोस्तों आपको बता दें कि, गूगल क्रोम की इस समस्या का समाधान भी गूगल ने ढूंढ लिया है। अपने डिवाइस को नुकसान पहुंचाने से बचाने और डेटा को हैक होने से रोकने के लिए, गूगल क्रोम के अपडेटेड वर्जन को लॉन्च किया गया है। बता दें कि, गूगल क्रोम का अपडेटेड वर्जन मैक, विंडोज और लिनक्स सभी के लिए उपलब्ध है। आपको केवल इसे अपडेट करना है।

अगर आप भी अभी तक गूगल क्रोम का पुराना वर्जन ही इस्तेमाल कर रहे थे, तो जल्द से जल्द बिना किसी देरी के इसे अपडेट कर लें।

Facebook Comments