Quarantine Man Eat 40 Rotis and 10 Plates of Rice Daily: जैसा कि आप सभी जानते हैं देश के विभिन्न राज्यों से बिहारी मजदूर इन दिनों रोजगार ना मिल पाने की वजह से बिहार पहुंच रहे हैं। ऐसे में भारत सरकार की गाइडलाइन्स के अनुसार बिहार पहुंचने वाले सभी मजदूरों को 14 दिनों के लिए क्वारन्टीन सेंटर में रखा जा रहा है। ऐसे में बिहार के बक्सर जिले के क्वारन्टीन सेंटर में रहने वाला एक युवक अपनी डाइट की वजह से इन दिनों खूब सुर्खियां बटोर रहा है। महज 23 साल के इस युवक की डाइट से बक्सर जिले के क्वारन्टीन सेंटर में रहने वाले बाकी लोग काफी परेशान हैं। यहाँ के लोगों का कहना है कि, ये युवक एक बार में दस लोगों का खाना अकेले खा जाता है। आइये आपको बताते हैं इस युवक की डाइट के बारे में जिसने काफी लोगों को परेशानी में डाल रखा है।

एक बार में चालीस रोटी और दस प्लेट चावल खा जाता है (Bihar Man Eats 40 Rotis and 10 Plates of Rice in Quarantine)

bihar man eats 40 rotis and 10 plates of rice
INDIA TV

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, बिहार बक्सर के क्वारन्टीन सेंटर में रहने वाला अनूप ओझा नाम का ये युवक अपनी डाइट की वजह से काफी मशहूर हो रहा है। इस युवक की डाइट किसी को भी हैरानी में डाल सकती है। आपको बता दें कि, अनूप नाम का ये युवक एक बार में करीबन 40 रोटी और दस प्लेट तक चावल अकेले खा जाता है। इसकी इस डाइट की वजह से इस क्वारन्टीन सेंटर में खाना पकाने का काम करने वाले भी काफी परेशान हैं। बक्सर स्थित इस क्वारन्टीन सेंटर में रहने वाले अन्य लोगों का कहना है कि, अनूप लिट्टी बनने पर एक बार में करीबन 70 लिट्टी खा जाता है। इस वजह से खाना बनाने वालों को सबसे ज्यादा परेशानी हो रही है उन्होनें इसकी शिकायत उच्च अधिकारियों से भी कर दी है। अकेले अनूप की इस ख़ुराक की वजह से अन्य लोगों को ठीक से खाना नहीं मिल पाता है।

BDO कर रहे हैं इस मामले की जांच

बिहार, बक्सर के क्वारन्टीन सेंटर में रहने वाले अनूप ओझा की खुराक के बारे में पता चलने पर वहां के विडिओ अजय कुमार सिंह खुद मामले की पड़ताल करने पहुंचे। जब लोगों ने उन्हें अनूप की डाइट के बारे में बताया तो वो भी चौंक उठे। इस युवक के बारे में विशेष जानकारी देते हुए उन्होनें बताया कि अनूप राजस्थान में मजदूरी का काम करता था लेकिन लॉकडाउन वजह से रोजगार ना मिल पाने से वो बिहार लौटने को मजबूर था। वो बक्सर के खरहा टांड पंचायत का रहने वाला है, बक्सर लौटने के बाद उसे 14 दिनों के लिए क्वारन्टीन सेंटर में रहना पड़ रहा है। अनूप को घर भेजने में अभी एक हफ्ते का समय बचा है। अनूप की ख़ुराक के बारे में शोधकर्ताओं का कहना है कि, ये युवक ओवरईटिंग का शिकार है। बता दें कि, शरीर में एक प्रकार के हॉर्मोन बढ़ जाने की वजह से व्यक्ति ज्यादा खाने लगता है। भरसक अनूप भी इसी हॉर्मोन की वजह से ज्यादा खा रहा हो।

Facebook Comments