Coronavirus Car: पूरी दुनिया में कोरोना वायरस से लगभग 15 लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं। इस खतरनाक वायरस ने 88 हज़ार से भी ज्यादा लोगों की जान ले ली है। यह एक ऐसा वायरस बन चुका है जिसकी चपेट में आज पूरी दुनिया है, लोग इसका नाम सुनकर ही डर रहे हैं। शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा जो भविष्य में इस वायरस के नाम से बनी किसी चीज का उपयोग करेगा। लेकिन भारत में इस बीच कोरोना कार भी बनकर तैयार हो गई है। आइये आपको बताते हैं क्या है इस कार के पीछे की कहानी।

किसने तैयार की कोरोना कार-Coronavirus Car

sudhakar-yadav-coronavirus-car-in-india
News18

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, एक भारतीय डिज़ाइनर ने अपने संग्रहालय में कोरोना वायरस थीम पर एक कार का निर्माण किया है। इस डिज़ाइनर का नाम है सुधाकर यादव, उन्होनें कोरोना वायरस पर बनी इस कार को बीते 7 अप्रैल को बनाकर तैयार किया है। सुधाकर यादव की माने तो उन्होनें इस कार का निर्माण कोरोना वायरस के प्रति लोगों में जागरूकता लाने के लिए किया है। देश में लॉकडाउन के वाबजूद भी कोरोना वायरस से पीड़ितों की संख्या में जो वृद्धि हुई है इससे सुधाकर काफी व्यथित हैं। इसलिए उन्होनें अपनी तरफ से एक छोटा सा प्रयास करके इस कार का निर्माण कर लोगों में जागरूकता फैलाने का काम किया है।

यह भी पढ़े

कोलकाता के मिठाई दुकानदार ने कोरोना वायरस जैसी बनाई मिठाई, नाम रखा कोरोना संदेश

जानें क्या है इस कोरोना कार की ख़ासियत

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, कार डिज़ाइनर सुधाकर यादव ने 100 सीसी कोरोना कार का निर्माण, दुनिया को इस महामारी से बचाने और लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए किया है। एक टेलीफोनिक इंटरव्यू के दौरान उन्होनें बताया कि, देशवासियों को इस समय सरकार का साथ देना चाहिए और जहाँ तक संभव हो इस वायरस से खुद का बचाव करना चाहिए। इस कार के ख़ासियत की बात करें तो कोरोना वायरस के शेप में इसे डिज़ाइन किया गया है। ग्रीन कलर के इस कार में केवल एक व्यक्ति बैठ सकते हैं और इसे फ्लोरेसेंट ग्रीन फाइबर से बनाया गया है। इसका आकार रूप हूबहू कोरोना वायरस जैसा है। बता दें कि, इस कार का इस्तेमाल हैदराबाद की सड़कों पर लोगों में जागरूकता लाने और उन्हें घर अंदर ही रहने के लिए प्रेरित करने के लिए किया जा रहा है।

Facebook Comments