BigBasket and Grofers hiring employees: कोरोना के खिलाफ देश एक जंग लड़ रहा है। जिसके कारण 21 दिन का लोकडाउन लगे होने के कारण लोग मजबूरी और बेबसी का प्रकोप झेल रहे हैं। परिस्थितियों को देखते हुए ऐसा आभास होता है कि, 14 अप्रैल के बाद लोकडाउन खुलने के बाद भी स्थिति सामान्य नही हो पाएंगी। स्थिति सामान्य होने में अभी बहुत समय और लग सकता है। ऐसे में बिग बास्केट और ग्रोफर्स जैसी बड़ी कंपनियां जो कि ग्रोसरी के बाजार में एक बड़ा ब्रांड बन चुके हैं, ने बड़ा ऐलान किया है। यह कंपनियां 12,000 लोगों को नौकरियां प्रदान करेंगी। और अपने सभी पेंडिंग ऑर्डर उसको जल्द से जल्द पूरा करने का प्रयास करेंगी।

कंपनियों में 50% कर्मचारियों की आई कमी

बिगबास्केट की अधिकारी तनुजा तिवारी ने न्यूज एजेंसी पीटीआई को यह बयान दिया कि, मौजूदा परिस्थिति के कारण लोगों को सामान की डिलीवरी समय से नहीं पहुंच पाने के कारण 10,000 लोगों की नियुक्ति करना चाहते हैं। ताकि सभी पेंडिंग ऑर्डर्स का सामान जल्द से जल्द आखिरी मुकाम तक डिलीवर किया जा सके। तनुजा के अनुसार यह नियुक्ति उन 26 देशों में होगी। जहां पर यह कंपनियां या उनके के गोदाम स्थित है। सूत्रों के हवाले से खबर मिली है कि, आज के समय में यहां 50% कर्मचारियों की अचानक कमी होने के कारण काम रुक गया है।

grofes and bigbasket will hire 12000 employees
Techcrunch

वहीं दूसरी ओर ग्रोफर्स ने भी दो हजार नौकरियां निकाली है। गौरतलब है कि लोकडाउन के चलते कर्मचारियों की कमी हो गई है। और लोगो तक डिलीवरी पहुंचाने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। पिछले कुछ बयानों से पता चला है कि, ग्रोफर्स के लगभग 5 लाख आर्डर अभी भी पेंडिंग है।

फ्लिपकार्ट के कर्मचारियों को दिलाया गया भरोसा

वहीं दूसरी ओर फ्लिपकार्ड जो कि एक ई कॉमर्स कंपनी है, ने अपने कर्मचारियों को भरोसा दिलाया कि कोविड-19 के कारण लगे लोकडाउन में किसी भी कर्मचारी की सैलरी में कटौती नहीं की जाएगी। उन्हें उनका पूर्ण वेतन प्राप्त होगा।

Facebook Comments