दुनिया की सबसे बड़ी सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक(Facebook) ने एक बड़ा फैसला लिया है। जिसके तहत उसने बीती 31 अगस्त को 103 फेसबुक पेज, 78 ग्रुप्स, 453 अकाउंट और 107 इंस्टाग्राम अकाउंट को सस्पेंड कर दिया है। बताया जा रहा है कि इन सभी अकाउंट्स और पेज को पाकिस्तानी लोगों की ओर से चलाया जा रहा था। फेसबुक(Facebook) ने कहा था कि यह एक संगठन की ओर से अवैध काम करने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा था, जिसे अब सस्पेंड कर दिया गया है।

फेसबुक(Facebook) ने इस नेटवर्क का हिस्सा स्टैनफर्ड इंटरनेट ऑब्जर्वेटरी के साथ शेयर किया है। एसआईओ का कहना है कि जांच में पता चला है कि ये नेटवर्क बड़े स्तर पर ऐसे अकाउंट्स को रिपोर्ट करने के काम करता था, जो इस्लाम या फिर पाकिस्तानी सरकार के आलोचक होते हैं। इन अकाउंट्स के टार्गेट पर भारत की सरकार और पीएम मोदी भी रहते थे।

Facebook Suspend Pakistani Accounts
Image Source – Nytimes.com

एसआईओ ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि नेटवर्क का टार्गेट भारत और पाकिस्तान ही लगते हैं। क्योंकि इन पर जो ज्यादातर पोस्ट किए जाते थे, वह उर्दू, हिंदी, अंग्रेजी और पंजाबी में होते थे। फेसबुक का कहना है कि 70 हजार अकाउंट्स ने कम से कम 1 पेज को फॉलो किया है और 11 लाख यूजर ऐसे ग्रुप्स के थे।

लगभग 200 अकाउंट पर गिरी गाज

Facebook Suspend 453 Accounts
Image Source – Thedrum.com

यही नहीं जो अकाउंट्स सस्पेंड किए गए हैं, वहां ऐसे लिंक शेयर किए जाते थे, जहां से सीधे किसी अकाउंट या फिर फोटो को रिपोर्ट करने के पेज पर रीडायरेक्ट किया जाता था। नेटवर्क लगभग 200 अकाउंट सस्पेंड करने का दावा कर रहा है हालांकि अभी इस बात की पुष्टि नहीं हो सकी है। इनमें कुछ अकाउंट्स दूसरों का अपमान करने वाले फर्जी नाम के थे।

यह भी पढ़े

आपको बता दें कि इस नेटवर्क ने ऑटो रिपोर्टर का इस्तेमाल किया है, जो गूगल क्रोम ब्राउजर() का एक ऑटोमेटेड रिपोर्टिंग एक्सटेंशन है। इस एक्सटेंशन के क्रिएटर ने कहा है कि उन्होंने यह प्रॉडक्ट ऐसे अकाउंट्स के लिए बनाया है, जो इस्लाम विरोधी या फिर पाकिस्तान विरोधी हैं। या फिर ऐसे पेज जो सोशल मीडिया(Social Media) के लिए खतरा हैं। इस नेटवर्क पर फर्जी अकाउंट बनाना और दूसरे अकाउंट रिपोर्ट करना सिखाया जाता था।

Facebook Comments