Health Tips: सेहत के लिए दूध पीना बहुत ही फायदेमंद होता है, पर दूध पीने का सही तरीका जानना भी जरूरी है। तभी इससे आपके बच्चे बुद्धिमान बनते हैं और बलवान भी। साथ में बड़े लोग भी दूध पीकर कई तरह की अपनी आदतों को छोड़ सकते हैं, जिन्हें वे चाहकर भी छोड़ नहीं पा रहे हैं।

ये है दूध पीने का सही वक्त – Health Tips

According to Ayurveda right time way to drink milk
Firstcry Pretending

सुबह में नाश्ते के दौरान दूध का सेवन किया जा सकता है। हालांकि, इस बात का ख्याल रखना इस दौरान जरूरी है कि नाश्ते में कुछ ऐसा आप न खा रहे हों, जिसमें कि नमक का इस्तेमाल किया गया हो। कभी भी नमक वाली चीजें दूध के साथ नहीं खानी चाहिए। दिन में या फिर 24 घंटे में किसी भी वक्त आप दूध पी सकते हैं, मगर इस बात का ख्याल जरूर रखें कि दूध पीने से तत्काल पहले नमक या फिर खट्टी चीजें आपने न खाई हों। साथ ही दूध पीने के तत्काल बाद आपको कोई खट्टी चीज या नमकीन नहीं खाना चाहिए।

भोजन करने के इतनी देर बाद पीएं दूध

रात में भोजन करने के बाद आप दूध का सेवन कर सकते हैं। हालांकि भोजन करने और दूध पीने के बीच कम-से-कम 2 घंटे का अंतर आपको देना चाहिए। तभी दूध पीने का पूरा लाभ आपको मिल पाएगा। खाने के तुरंत बाद यदि आप दूध पी लेते हैं तो इससे गैस, उल्टी, फूड प्वाइजनिंग, पेट में दर्द, अपच और लूज मोशन जैसी परेशानियां हो सकती हैं। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि नमक और तेल में जो भोजन बने होते हैं, उनकी दूध के साथ परस्पर विरोधी प्रकृति होती है।

Health Tips – दूध पीने से बड़ों को मिलने वाले लाभ

According to Ayurveda right time way to drink milk
She Knows

कैल्शियम की प्राप्ति शरीर को दूध पीने से होती है। इससे मस्तिष्क का विकास ठीक तरीके से हो पाता है। आमतौर पर बच्चों के परिप्रेक्ष्य में ये बातें सही मानी जाती हैं, क्योंकि बड़े यह सोचते हैं कि पहले ही उनके दिमाग को जितना विकसित होना था, हो चुका है। हालांकि, ऐसा बिल्कुल भी नहीं होता। व्यस्क लोग यदि दूध का सेवन करते हैं तो उनके दिमाग को कोई लाभ नहीं पहुंचने वाला, यह सोच गलत है। उनके दिमाग को भी इससे लाभ मिलता है। दूध पीने से दरअसल हमारा शरीर दिमाग में मन को शांत रखने वाले हार्मोन डोपामाइन के सीक्रेशन को बढ़ा देता है। इससे मानसिक सुकून मिलता है।

यह भी पढ़े:

तनाव मुक्त ऐसे रखता है दूध

डोपामाइन से दिमाग शांत होता है। दूध पीने से शारीरिक तौर पर आराम मिलता है और दिमाग को सुकून का अनुभव होता है। दूध में थोड़ी हल्दी मिलाकर पीने से शरीर का दर्द और जकड़न खत्म हो जाते हैं। हल्दी मिलाकर दूध पीना पेन किलर की तरह काम करता है, जो दर्द को मिटा देता है।

स्मोकिंग छोड़ने में मददगार

Health Tips
ABP News

एक रिसर्च में पता चला है कि दूध पीने से स्मोकिंग की तलब को घटाया जा सकता है। विशेषज्ञों के मुताबिक घूंट-घूंट करके दूध का सेवन करने से कुछ हफ्ते के अंदर अपनी इच्छाशक्ति एवं दूध के गुणों के बल पर स्मोकिंग की तलब पर कंट्रोल पाया जा सकता है।

Facebook Comments