टैटू(Tattoo) बनावाने का क्रेज काफी पुराना है, लेकिन कुछ लोगों में ये क्रेज पागलपन की हद पार कर चुका है

शरीर के अलग अलग हिस्सों पर टैटू(Tattoos) बनावाने का क्रेज काफी पुराना है, लोग आम तौर पर अपने इमोशन्स से जुड़ा टैटू बनवाना पसंद करते हैं। लेकिन वहीं कुछ लोगों के लिए टैटू स्टाइल स्टेटमेंट भी है, और स्टाइल स्टेटमेंट के चक्कर में टैटू बनवाने की जुनून कब दुनिया की नजर में वो पागलपन बन जाता है, उन्हें खुद को मालुम भी नहीं पड़ता।  

Man Body Modifications And Tattoos
Image Source –  MDWfeatures / @mr._skull_face_666

टैटू(Tattoo) बनवाने के लिए कुछ लोग अपने इमोशन्स के चलते सुई का दर्द सहन करते हैं, तो कुछ नॉर्मल लोगों से खुद को अलग दिखाने के लिए अपने शरीर के किसी भी हिस्से को सुई से अनछुआ नहीं रखते, ऐसे लोग दुनिया में अलग दिखने के लिए कुछ भी करते हैं। इसके लिए उन्हें चाहें कितने भी ऑपरेशन कराने पड़े या फिर अपने शरीर का कोई हिस्सा कटवाना ही क्यों न पड़े, वो ज़रा भी हिचकिचाते नहीं हैं।

इस आर्टिकल में हम आपको एक ऐसे ही शख्स के बारे में बताएंगे जिसने कुछ अलग दिखने के चक्कर में अपने कान तक कटवा दिए और अब नाक कटवाने की तैयारी कर रहा है। इस शख्स का नाम सैन्ड्रो(Sandro) है जो 39 साल का है और जर्मनी का रहने वाला है। सैन्ड्रो(Sandro) ने अपनी शक़्ल ह्यूमन स्केलेटन(Tattoo) की खोपड़ी जैसी बनवाने की सनक के चलते पिछले साल अपने कान कटवा लिए थे, लेकिन उन्होंने अपने कान फेंके नहीं बल्कि एक जार में अपने पास ही रखे हैं। सैन्ड्रो(Sandro) को अपनी शक़्ल के लिए Mr. Skull नाम से भी जाना जाता है।

Sandro Spend 5 Lakhs On Body Modifications And Tattoos
Image Source – MDWfeatures / @mr._skull_face_666

रिपोर्ट्स के अनुसार सैन्ड्रो को बॉडी मॉडिफिकेशन(Body Modification) और अपने शरीर पर टैटू(Tattoo) बनवाने की सनक 2007 में चढ़ी थी, तब से वो इस काम के लिए लगभग 5 लाख(5 Lakh) खर्च कर चुके हैं। सैन्ड्रो ने सिर और हाथ पर इम्प्लांट्स करवाए हैं और अब वो अपने नाक का कुछ हिस्सा हटवाने और आंखे की पुतलियों में टैटू कराने के बारे में सोच रहे हैं।

यह भी पढ़े

सैन्ड्रो(Sandro) की इस सनक के चलते उनके निजी और प्रोफेशनल जीवन में काफी बदलाव आया है, लेकिन इससे सैन्ड्रो(Sandro) को कोई फर्क नहीं पड़ता, वो अपनी सनक के साथ आगे बढ़ते रहना चाहते हैं। सैन्ड्रो(Sandro) के दोस्त और परिवार के लोग उन्हें पागल समझते हैं लेकिन सैन्ड्रो(Sandro) अपना जीवन अपनी तरीके से ही जीना पसंद करते हैं और उसे वैसा ही जीना चाहते हैं।

Facebook Comments