Rekha: रेखा बॉलीवुड की सबसे सदाबहार अभिनेत्रियों में से एक हैं। अपने पिता के साथ रेखा के संबंध किस तरह के रहे थे, इसके बारे में शायद बहुत से लोगों को मालूम न हो। दरअसल रेखा के पिता भी दक्षिण भारतीय फिल्मों के सुपरस्टार थे। उनका नाम था जेमिनी गणेशन। मां भी रेखा की दक्षिण भारत की एक अभिनेत्री ही थीं। बताया जाता है कि चार शादियां उन्होंने की थी। अपने पिता के साथ रेखा के संबंध शुरुआत से ही बहुत अच्छे नहीं रहे थे।

खुद भी किया खुलासा

Rekha Hate Her Father She Even Miss His Funeral
Jagran

कई बार रेखा की ओर से कई साक्षात्कार में इस बात का खुलासा किया जा चुका है कि अपने पिता के साथ उनके संबंध अच्छे नहीं रहे थे। यही नहीं, रेखा की बायोग्राफी ‘रेखा: द अनटोल्ड स्टोरी’ भी आप पढ़ेंगे तो इसमें भी आपको इस बात का उल्लेख मिलेगा कि रेखा की मां पुष्पांजलि दरअसल शादी से पहले ही मां बन गई थीं। शादी हो जाने के बाद रेखा की मां ने दो बच्चों को जन्म दिया था।

मजबूर हुईं रेखा (Rekha)

Rekha Hate Her Father She Even Miss His Funeral
Newstracklive

यह वह वक्त था जब रेखा के पिता जेमिनी गणेशन अपने करियर में ऊंचाइयों को छू रहे थे। उस वक्त उन्हें एक से बढ़कर एक फिल्मों के ऑफर मिलते जा रहे थे और उनकी लोकप्रियता लगातार बढ़ती ही जा रही थी। दक्षिण भारतीय फिल्म इंडस्ट्री में वे बड़ा नाम बनते जा रहे थे। वहीं दूसरी ओर रेखा की मां का करियर एक तरीके से शादी और बच्चा हो जाने के बाद बिल्कुल खत्म ही हो चला था। आर्थिक तंगी छाने लगी थी। ऐसे में सिर्फ 13 साल की उम्र में ही रेखा को पढ़ाई छोड़नी पड़ी थी और उस वक्त फिल्मों में काम करने की चाहत न होने पर भी उन्हें काम करना पड़ा था।

पिता ने नहीं की मदद

Rekha Hate Her Father She Even Miss His Funeral
Abpganga

रेखा(Rekha) और उनकी मां पुष्पांजलि के पास और कोई चारा भी नहीं बचा था। काम तो उन्हें करना ही था, लेकिन इसके लिए वे काफी समस्याओं का सामना कर रहे थे। रेखा के पिता जेमिनी गणेशन की अच्छी-खासी पहुंच थे और वे उस वक्त के जाने-माने एक्टर थे। यदि वे चाहते तो बहुत ही आसानी से फिल्मों में रेखा को काम मिल सकता था, लेकिन इसके बावजूद रेखा के पिता ने इसे लेकर उनकी कोई मदद नहीं की थी। ऐसे में रेखा का गुस्सा और बढ़ गया था और अपने पिता से वे बेहद नाराज तभी से रहने लगी थीं।

यह भी पढ़े

जब हुआ आमना-सामना

Rekha Hate Her Father She Even Miss His Funeral
File Photo

हालांकि, जब वर्ष 1994 में लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से जेमिनी गणेशन को नवाजे जाने का वक्त आया था तो इस दौरान पिता जेमिनी और बेटी रेखा एक-दूसरे के आमने-सामने हो गए थे। दोनों के एक-दूसरे के आमने-सामने होने वाला यह पल इन दोनों के लिए बड़ा ही भावुक रहा था। अपनी बेटी रेखा के हाथों ही जेमिनी गणेशन को यह अवार्ड मिल रहा था। ऐसे में बाप और बेटी काफी भावुक हो गए थे और अवार्ड देने के दौरान अपने पिता के तो रेखा ने उस दौरान पैर भी छू लिए थे।

नहीं पहुंचीं रेखा

वैसे यह सब हो जाने के बाद भी जो रेखा के अंदर अपने पिता को लेकर नफरत थी, वह खत्म नहीं हुई थी। इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि जब रेखा के पिता का वर्ष 2005 में निधन हो गया था, तब रेखा अपने पिता के अंतिम संस्कार में नहीं गई थीं। रेखा ने इस वक्त बताया था कि मनाली में अपनी एक फिल्म की शूटिंग में व्यस्तता की वजह से वहां नहीं पहुंच सकी थीं। इस तरह से ही रेखा ने हमेशा इस बात को याद रखा कि अपने पिता की वजह से उन्हें और उनकी मां को जीवन में कितनी विषम परिस्थितियों का सामना करना पड़ा था। नफरत अपने पिता के लिए उनके अंदर इस कदर थी कि उनके अंतिम संस्कार में रेखा नहीं ही पहुंचीं, जबकि इसके लिए शूटिंग किसी भी बेटी के लिए कोई बड़ी बाधा नहीं हो सकती थी।

Facebook Comments