CoronaVirus Bharat Mission: हमारे देश में, हमारे समाज में कई ऐसे लोग हैं जो अपने साथ दूसरों की भी फिक्र करते हैं। चाहे वे जिस स्तर पर हों, वहीं अपने सामर्थ्य के अनुसार वे दूसरों की मदद करने का प्रयास करते हैं। उड़ीसा (Odisha) में भी एक छोटे से गांव से ताल्लुक रखने वाले भारत नाथ नाम के 61 साल के एक ऐसे ही शख्स हैं, जिन्हें अपने देश भारत की चिंता बहुत सताती है। वैसे तो फल बेचना उनका काम है और इसी से वे अपने और अपने परिवार का गुजारा करते हैं, लेकिन कोरोना वायरस के प्रति जागरूकता फैलाने का भी बीड़ा उन्होंने इस वक्त उठा रखा है।

ऐसे कर रहे सावधान

Bharat Nath From Odisha Protect Bharat Mission Amid Coronavirus
Navbharattimes

मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि भारत नाथ अपने ग्राहकों के साथ स्थानीय लोगों के बीच कोरोना वायरस को लेकर जानकारी फैला रहे हैं और उन्हें जागरूक कर रहे हैं। इसके लिए वे पेंफलेट्स और अखबारों की कटिंग की मदद ले रहे हैं। इनमें लिखा हुआ है कि कोरोना वायरस से बचने के लिए क्या करना चाहिए और क्या नहीं। कोरोना वायरस (CoronaVirus) से बचाव के लिए एहतियात बरतने और सावधान रहने के लिए भारत नाथ की ओर से उड़ीसा के पारादीप में पोस्टर लगाए गए हैं। पारादीप बंदरगाह में उन्होंने बहुत से पोस्टर लगाए हैं। उनका मानना है कि यहां बहुत से विदेशी जहाज आते हैं, जिनसे बड़ी संख्या में विदेश से भी लोगों का आगमन होता है।

बंदरगाह में सतर्कता

बंदरगाह होने की वजह से यहां पर भी कोरोना वायरस के फैलने का खतरा मंडरा रहा है। ऐसे में भारत नाथ के अलावा बंदरगाह के अधिकारी भी इसके लिए सतर्क हो गए हैं। बंदरगाह के प्रवेश द्वार पर बताया जा रहा है कि जांच पहले से तेज कर दी गई है। साथ ही बंदरगाह के इलाकों में जागरूकता फैलाने का काम भी यहां के अधिकारियों की ओर से किया जा रहा है।

यह भी पढ़े

बना रहे जागरूक

भारत नाथ फल बेचा करते हैं, लेकिन इसके बावजूद अपने इस काम से वक्त निकालकर वे सड़क किनारे किताबों और अखबारों की कटिंग लेकर बैठ जाते हैं। वे लोगों को समझाते हैं कि छींकने और खांसने का सही तरीका क्या है। भारत नाथ लोगों को बता रहे हैं कि अच्छी तरह से बार-बार हाथ धोना क्यों जरूरी है। इसके अलावा घर से बाहर निकलने वाले लोगों को वे इस वक्त मुंह पर मास्क पहनकर निकलने की भी सलाह दे रहे हैं।

इन्हें दे रहे विशेष सलाह

जो लोग अक्सर यहां विदेशी नागरिकों के संपर्क में आते हैं, उन्हें भारत नाथ विशेष तौर पर जागरूक कर रहे हैं और सलाह दे रहे हैं। भारत नाथ इन्हें बता रहे हैं कि जब भी वे उन विदेशियों से बात कर रहे हैं, जिनके देश में कोरोना वायरस फैला हुआ है तो उन्हें इस दौरान अधिक सतर्कता बरतनी चाहिए। लोगों को भारत नाथ यह भी समझा रहे हैं कि यदि वे मांस या मछली का सेवन कर रहे हैं, तो खाने से पहले उन्हें बहुत अच्छी तरह से पका जरूर लें। इस तरह से भारत नाथ अपने स्तर से ही जितना संभव है अपने काम के वक्त निकालकर लोगों को जागरूक करके बाकी लोगों को भी दूसरों की मदद करने की प्रेरणा दे रहे हैं।

कोरोना वायरस की भयावहता (CoronaVirus Bharat Mission)

Bharat Nath From Odisha Protect Bharat Mission Amid Coronavirus
PTI

कोरोना वायरस की भयावहता की बात करें तो अब तक दुनियाभर में 3 हजार से भी अधिक लोगों की यह खतरनाक वायरस जान ले चुका है। यही नहीं, लगभग एक लाख लोग इस वायरस से दुनियाभर में संक्रमित बताए जा रहे हैं। भारत के लिए भी खतरे की घंटी बज चुकी है, क्योंकि यहां भी कोरोना वायरस के 28 मामले प्रकाश में आ चुके हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन की ओर से भारत के पूरी तरह से तैयार रहने और ईरान में फंसे भारतीयों को निकालने की भी बात कही गई है।

Facebook Comments