UPI Kya Hai: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब से सत्ता में आए हैं देश में काफी कुछ बदलाव देखने को मिला है। एक वक़्त था जब लोग इंटरनेट का इस्तेमाल भी काफी डर-डर कर करते थे, मगर पीएम मोदी ने अपनी नीतियों से चीजों को इतना ज्यादा सरल बना दिया कि आज वही लोग धड़ल्ले से इसका इस्तेमाल कर रहे हैं। यकीनन UPI यानी की Unified Payment Interface भी उसी का एक हिस्सा है। आज तकरीबन हर कोई इससे परिचित है और बेझिझक इसका इस्तेमाल भी कर रहा है। देश को डिजिटल और कैशलेस इंडिया बनाने की मुहिम का ही हिस्सा है ये UPI, जिसका कहीं भी और कभी भी इस्तेमाल किया जा सकता है।upi kya haiUPI जितना सुनने में आसान लगता है, उतना ही आसान इस्तेमाल करने में भी है। जी हां, आपको बता दें कि UPI एक ऐसा प्रोग्राम है, जिसे जिसे देश की सबसे बड़ी बैंकिंग सिस्टम आरबीआई और एनपीसीआई ने मिलकर 11 August, 2016 को शुरू किया था। इसे शुरू करने का एक ही मकसद था कैशलेस इकॉनमी को ज्यादा से ज्यादा आगे बढ़ाना। निश्चित रूप से सरकार का यह प्रयास सफल भी रहा और उसी का नतीजा है कि आज तकरीबन सभी स्मार्टफोन धारकों के पास उनका UPI ID है, जिसकी मदद से वो खरीददारी से लेकर बिल जमा करने तथा अपने किसी परिचित को पैसे भेजने तक का काम बेहद ही आसानी से कर सकते हैं।

UPI का बेहतर इस्तेमाल करने के लिए आपको ऐसे किसी भी ऐप को डाउनलोड करना होगा जो इसे सपोर्ट करता हो, जैसे पेटीएम, Bhim, गूगल तेज, फोन पे, आदि। आप इसे इस तरह से भी समझ सकते हैं कि इन सभी ऐप का इस्तेमाल UPI के लिए ही किया जाता है। हालांकि, इन सभी के इस्तेमाल में ग्राहक के डाटा की पूरी सुरक्षा भी दी जाती है ताकि किसी भी तरह का जोखिम न उठाना पड़े।

आपको यह भी बता दें कि UPI का इस्तेमाल करने के लिए सबसे पहले तो आपको UPI Id बनानी पड़ती है। इसके लिए आपको एक सामान्य से रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया से गुजरना होता है जो कि काफी आसान होता है। इस दौरान आपको अपना वह मोबाइल नंबर जो कि आपके बैंक खाते से जुड़ा है उसे डालना होता है। इसके बाद उसी नंबर पर एक OTP आयेगा जिसकी मदद से आप अपना एक Password सेट कर सकते हैं। इसी पासवर्ड की मदद से आप बेहद ही आसानी से अपने बैंक खाते से किसी और के खाते में रुपये भेज सकते हैं। इसके अलावा यदि आप कहीं पर भी खरीददारी करते हैं तो उसका भुगतान भी UPI की मदद से बहुत आसानी से कर सकते हैं। ऐसे में आप कैश या फिर फुटकर/चेंज आदि की झंझट से पूरी तरह मुक्त हो जाते हैं।

अगर सरल भाषा में समझा जाए तो अभी तक रुपये भेजने के हमारे पास कुछ सीमित साधन ही थे जैसे NEFT, RTGS, IMPS आदि मगर UPI के आ जाने से रुपए भेजने की प्रक्रिया काफी ज्यादा आसान हो गयी है। साथ ही तकरीबन काफी हद तक यह सुविधा निःशुल्क भी है। इसकी सबसे खास बात यह है कि इसे इस्तेमाल करना इतना ज्यादा आसान है कि कोई भी इसे बिना झंझट उपयोग में ला सकता है। लेकिन हां, इसका इस्तेमाल केवल वही व्यक्ति कर सकता है जिसके पास स्मार्टफोन है और इंटरनेट कनेक्शन भी। तो देर किस बात की है? अगर आपने भी अब तक UPI ट्रांजेक्शन नहीं किया है तो एक बार इसका इस्तेमाल जरूर कर के देखें। हमें यकीन है कि एक बार इस्तेमाल कर लेने पर आप हमेशा इसी का इस्तेमाल करेंगे।

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा। पसंद आने पर लाइक और शेयर करना न भूलें।  

 

Facebook Comments