Benefits of Pine Tree: आपने आज तक बहुत से विभिन्न पेड़ों के बारे में सुना होगा लेकिन चीड़ का पेड़ यानि कि Pine tree के बारे में शायद ही कभी सुना हो। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, भारत में उत्तराखंड के जंगलों में काफी ज्यादा मात्रा में चीड़ का पेड़ पाया जाता है। इसका उपयोग कपड़े बनाने से लेकर स्वास्थ्य के लिए भी बेहद लाभदायक माना गया है। आज इस आर्टिकल में हम आपको विशेष रूप से चीड़ का पेड़ क्या है और उसके विभिन्न फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं। आइये जानते हैं आखिर क्या है इस पेड़ के विभिन्न फायदे।

चीड़ का पेड़ किसे कहते हैं

Benefits of Pine Tree
Urnabios

लंबाई में काफी ज्यादा ऊँचा चीड़ का पेड़ (Benefits of Pine Tree) असल में उत्तरी अमेरिका, यूरोप सहित भारत और म्यांमार में भी पाए जाते जाते हैं। इस पेड़ का तक़रीबन 90 अलग प्रजातियां है, जिसका उपयोग विभिन्न प्रकार से किया जाता है। भारत में उत्तराखंड के जंगलों में चीड़ का पेड़ काफी ज्यादा पाया जाता है। चीड़ को सेहत के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद माना जाता है, इसका प्रयोग विभिन्न प्रकार से करके आप खुद को काफी लाभ पंहुचा सकते हैं। इस पेड़ से एक खास प्रकार का गोंद निकलता है जिसका इस्तेमाल तेल से लेकर अन्य कई प्रकार के उत्पादों को बनाने में किया जा सकता है। ठंडी जगहों पर आपको चीड़ का पेड़ ज्यादा देखने को मिल सकता है।

चीड़ से होने वाले विभिन्न स्वास्थ्यवर्धक फायदे (Benefits of Pine Tree)

मुंह के छालों के लिए वरदान

Benefits of Pine Tree
Google

बहुत से लोगों को मुंह में छाले होने की शिकायत होती है। मुंह में छाले होने के बहुत से कारण हो सकते हैं। कई बार बहुत ज्यादा तीखी चीजें खाने से भी मुंह में छाले की शिकायत हो सकती है। इसके साथ ही कई बार पेट की गर्मी की वजह से भी मुंह में छाला हो सकता है। ऐसे में मुंह के छालों से छुटकारा पाने में चीड़ के पेड़ से निकलने वाला गोंद आपके लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। इसके गोंद से गार्गिल करने से आपको इस समस्या से निजात मिल सकता है।

इम्युनिटी बूस्टर

Benefits of Pine Tree
Immunity Level

चीड़ को विटामिन सी का पावर हॉउस माना जाता है। विटामिन की मात्रा शरीर में जाने से आपका प्रतिरक्षा प्रणाली यानि की इम्यून सिस्टम काफी ज्यादा मजबूत होती है। इससे आप विभिन्न प्रकार के रोगों से खुद को काफी हद तक बचा सकते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, चीर में तो विटामिन सी पाया ही जाता है इसके साथ ही साथ इस पेड़ के छिलकों में भी काफी ज्यादा मात्रा में विटामिन सी मौजूद होता है। रोजाना एक कप चीड़ के छिलकों से बनी चाय पीने से आपको विटामिन सी की उचित मात्रा प्राप्त हो सकती है। विटामिन सी शरीर में सफ़ेद रक्त कोशिकाओं को उत्तेजित करता है और शरीर में एंटीऑक्सीडेंट का भी संचार करता है।

यह भी पढ़े

आँखों की रोशनी के लिए लाभकारी

Benefits of Pine Tree
Patrika

पाइन या चीर की चाल में विटामिन ए और कैरोटिनॉइड की मात्रा भी काफी ज्यादा होती है। कैरोटिनॉइड वास्तव में एक प्रकार का एंटीऑक्सीडेंट है, जो खासतौर से आँखों की रोशनी को बढ़ाने का काम करते हैं। इसकी चाय पीने से बुजुर्गों को काफी लाभ मिल सकता है, विशेष रूप से उन्हें जिनकों मोतियाबिंद की समस्या हो। ये आँखों में मोतियाबिंद होने से रोकने में भी मददगार हो सकता है और आँखों की रोशनी को पहले से ज्यादा बढ़ा सकता है। जरूरी नहीं है कि, पाइन टी का सेवन केवल उम्रदराज लोग ही करें युवा और वयस्क भी इसका सेवन कर बुढ़ापे में आँखों में होने वाली दिक्कतों को दूर कर सकते हैं। इस चाय को पीने से आपको स्ट्रेस और मानसिक तनाव से भी निजात मिल सकता है।

बालों और त्वचा के लिए फायदेमंद

Benefits of Pine Tree
Skin

चीर में मौजूद विटामिन ए की मात्रा को आँखों के साथ ही स्किन के लिए भी विशेष रूप से फायदेमंद माना जाता है। यह त्वचा में किसी प्रकार का ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस नहीं होने देता है और स्किन को रिंकल की समस्या से भी बचाने में मददगार साबित हो सकता है। चेहरे पर होने वाले दाग धब्बे और मुहांसों की समस्या से भी निजात दिलाने में पाइन काफी असरदार साबित हो सकता है। अब बात करे बालों की तो, विटामिन ए और विटामिन सी दोनों ही सर के स्कैल्प के लिए बेहद फायदेमंद माने जाते हैं। इसके इस्तेमाल से बालों में चमक बनी रहती है और बालों के झड़ने की समस्या से भी निजात मिलता है।

Facebook Comments